Search Your Qestions



Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi

नमस्ते दोस्तों  जैसा की आपको पता होगा की वर्तमान युग Computer का हैं | और आज कल हर छोटे से बड़े कार्य कंप्यूटर से ही  हो रहे हैं  | और ये सभी छोटे बड़े कार्य को करने के लिए और अलग अलग प्रकार के कार्य को करने के लिए हमें अलग अलग क्षमता वाले Computer की आवयकता होती हैं | और यही कुछ क्षमता और कार्य तथा Computer  के Features के आधार पर  कम्प्यूटर का  वर्गीकरण कुछ इस प्रकार किया गया हैं जो इस प्रकार हैं | तो यदि आप जानना चाहते हैं | Types Of Computer in Hindi के बारे में तो हमरा ये Artical Types Of Computer in Hindi, Computers के प्रकार, Computers  का  वर्गीकरण  वाला पोस्ट को पूरा अन्त तक जरुर पढ़ें ! यदि आप किसी Exam की तैयारी कर रहे हो या आप Computer कुछ भी पढाई कर रहे हैं | तो आप को ये जानकारी जरुर  होना चाहिए | तो चलिए इसके बारे में आगे विस्तार से जानते हैं | 


Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का  वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi
Types Of Computer in Hindi



कम्प्यूटर वह इलेक्ट्रानिक मशीन है, जो Data स्वीकार करता है, उसे भंडारित (Stored) करता है, फिर दिए गए निर्देशों (Information) के अनुरूप उनका विश्लेषण (Analysis) करता है तथा विश्लेषित परिणामों (Analyzed Result) का आवश्यकतानुसार निर्गत (Output) देता है। सरल शब्दों में कहे तो --- कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है | जो उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए निर्देश का क्रमबद्ध पालन करता है |और जो उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए निर्देश का मैथमेटिकल वह लॉजिकल ऑपरेशन करता है |  यह इनपुट डिवाइस के माध्यम से किसी भी प्रकार के इंस्ट्रक्शन (आदेश ) या डाटा को इनपुट कराता है तथा सीपीयू के माध्यम से डाटा को यूजर के द्वारा दिए गए इंस्ट्रक्शन (आदेश ) के अकॉर्डिंग (अनुसार ) प्रोसेस कराता है | वह रिजल्ट प्रोवाइड कराने के लिए आउटपुट डिवाइस के माध्यम से इनपुट डिवाइस के इंस्ट्रक्शन (आदेश ) को डाटा प्रोसेस के पश्चात हार्ड कॉपी और  सॉफ्ट कॉपी के रूप में रिजल्ट प्रोवाइड करता है | इसके लिये हमें डाटा का मतलब भी जान लेना चाहिए |जो कुछ इस प्रकार है |

Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का  वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi

कम्प्यूटर को उनके अनुप्रयोग (कार्यपद्धति) के आधार पर और और डेटा हैंडलिंग क्षमताओं के आधार पर, कंप्यूटर को  तीन प्रकार से विभाजित/वर्गीकृत किया गया है- जो कुछ इस प्रकार हैं | 
  • Digital Computer ( डिजिटल कम्प्यूटर ) 
  • Analog Computer ( एनालाग  कम्प्यूटर )
  • Hybrid Computer ( हाई ब्रीड कम्प्यूटर )

Digital Computer ( डिजिटल कम्प्यूटर ) :-
Digital Computer ( डिजिटल कम्प्यूटर ) वह Computer होता हैं , जो अंको की गणना करता हैं , यह Computer Bussiness को चलाने घर का बजट बनाना और सभी कार्य Digital Computer द्वारा होता  हैं , या किये जाते हैं , Digital Computer Data को और Program को 0 तथा 1 में परिवर्तित करके उन्हें Electronic रूप में  ले जाता हैं , Digital Computer का Result Digital रूप में Display होता हैं | वर्तमान में प्रचलित अधिकांश कम्प्यूटर Digital Computer के श्रेणी में आते हैं। गणना के लिए द्विआधारी अंक पद्धति (Binary System) 0 या 1 प्रयोग किया जाता है। इनकी गति तीव्र होती है।Digital Computer में Data और Program 0 और 1 के रूप में संग्रहित (Stored) होते हैं। यह वह कम्प्यूटर होता है, जो इलेक्ट्रॉनिक संकेतों (Electronic Signal) पर चलते हैं, अंकों को गणना करता है। Examples:  उदाहरण के लिए, कैल्कुलेटर एक डिजिटल कंप्यूटर हैं।

Analog Computer ( एनालाग  कम्प्यूटर ) :-
Analog Computer ( एनालाग  कम्प्यूटर ) वह Computer हैं , जो भौतिक मात्राओं  जैसे ताप दाब मान लम्बाई आदि जैसे मात्राओं को माप कर उनके परिणाम को अंको में Show (व्यक्त ) करते हैं , जैसे थर्मामीटर कोई गणना नहीं करता यह परे से सम्बन्धित प्रसार की तुलना कर शरीर का ताप मान बताता हैं,  Analog Computer ( एनालाग  कम्प्यूटर ) का Use Science और Engineering के क्षेत्रों में Use किया जाता हैं , क्योकि मात्राओं की इस क्षेत्रों में अधिक उपयोग होती हैं | एक पेट्रोलियम पंपों पर लगे हुए Computers भी Analog Computer होते हैं , जो पम्प से निकलने वाले पेट्रोल को मापती हैं | Examples: एक साधारण घड़ी, वाहन का गति मीटर (Speedometer), वोल्टमीटर (Voltmeter) आदि एनालाॅग कम्प्यूटरिंग का उदाहरण है।

Hybrid Computer ( हाई ब्रीड कम्प्यूटर ) :-
Hybrid Computer ( हाई ब्रीड कम्प्यूटर ) में अलग अलग Feactures Avalable होते हैं, ये वह Computer होता हैं , जिसमे Analog Computer और Digital Computer दोनों के गुण होते हैं , उसे Hybrid Computer ( हाई ब्रीड कम्प्यूटर )  कहतें हैं | जो Analog व Digital Computer का मिश्रित रूप है। इसमें गणना (Calculation) तथा प्रसंस्करण (Processing) के लिए डिजिटल रूप का प्रयोग किया जाता है, जबकि Input तथा Output में एनालाॅग संकेतों (Analog Signal) का उपयोग होता है। इस तरह के कम्प्यूटर का प्रयोग अस्पताल, रक्षा क्षेत्र व विज्ञान क्षेत्र आदि में किया जाता है।  Examples:  Hybrid Computer ( हाई ब्रीड कम्प्यूटर ) की Analog Device जब किसी मरीज की रक्तचाप को मापती हैं, तो उसका Result Digital रूप में भी Display होती हैं | 

आकार के आधार पर कम्प्यूटर के प्रकार | Types of Computer Based on Sizes :-
कंप्यूटर के आकार, कार्य करने की क्षमता, आंतरिक संरचना एवं तकनीक के आधार पर इसका वर्गीकरण चार भागों में किया गया हैं, जो कुछ इस प्रकार हैं |
  1. Micro Computer ( माइक्रो कंप्यूटर )
  2. Mini Computer ( मिनी कंप्यूटर )
  3. Mainframe Computer ( मेनफ्रेम कंप्यूटर )
  4. Super Computer ( सुपर कंप्यूटर )

> Micro Computer ( माइक्रो कंप्यूटर ) :- 
इसमें माइक्रोप्रोसेसर का उपयोग होता है |
कार्य क्षमता एवं संग्रहण स्टोरेज क्षमता कम होती है |
आजकल के सारे पीसी कंप्यूटर इसी प्रकार के हैं |
यह छोटे और सस्ते होते हैं |
वर्तमान में नेटवर्क से जुड़ कर यह मल्टी यूजर सिस्टम की तरह कार्य करने में सक्षम है |

Mini Computer ( मिनी कंप्यूटर ) :-
मल्टी यूजर सिस्टम है | ( कुछ सीमा तक )
इसका टर्मिनल लेन पद्धति से अपने मुख्य कंप्यूटर से जुड़ा रहता है |
बड़े-बड़े कार्यालयों में इसका उपयोग होता है |
इसकी प्रोसेसिंग क्षमता माइक्रो कंप्यूटर से अधिक होती है |

Mainframe Computer ( मेनफ्रेम कंप्यूटर ) :-
यह कंप्यूटर अत्यंत शक्तिशाली होता है एक ही समय में एक से ज्यादा Multi-User सिस्टम काम कर सकते हैं, ऐसे कंप्यूटर से जुड़े टर्मिनल की संख्या हजारों तक हो सकती है जो टेलीफोन लाइन रेडियो तरंग माइक्रो तरंग से जुड़े रहते हैं |

Super Computer ( सुपर कंप्यूटर ) :-
करोड़ों निर्देशों को सेकंड ओ में ( एग्जीक्यूट ) Execute कर सकता है |
यह अत्यंत शक्तिशाली कंप्यूटर है |
विशेष प्रकार की वातानुकूलन की आवश्यकता होती है |
सुपर कंप्यूटर प्राप्त जानकारी को सीधा विश्लेषण करता है |
साधारण कंप्यूटर की तुलना में इसकी गति हजार गुना अधिक होती है |


उद्देश्य के आधार पर कम्प्यूटरों के प्रकार | Types of Computer Based on Purpose :- 
कम्प्यूटर को उद्देश्य के आधार पर दो वर्गों में बांटा जा सकता हैं |  
  • General Purpose Computer  ( सामान्य उद्देश्य कम्प्यूटर )
  • Special Purpose Computer  ( विशिष्ट उद्देश्य कम्प्यूटर )

> General Purpose Computer  ( सामान्य उद्देश्य कम्प्यूटर ) :-
यह एक ऐसा Computer हैं , जिससे अनेक प्रकार की कार्य करने की Caacity होती हैं, लेकिन यह Word Proccessing से  Document तैयार करना Documents को Print करना Data Base तैयार करना जैसे समान्य कार्य को असानी से करता हैं |  General Purpose Computer  ( सामान्य उद्देश्य कम्प्यूटर ) में लगे CPU की कीमत भी कम होती हैं | इस Computer में हम अलग अलग Device को Control नहीं कर सकतें हैं, क्योकि इनकी Capacity Limited होती हैं | ऐसे कंप्यूटर जिनहे सामान्य उद्देश्य को पूरा करने के लिए तैयार किया जाता हैं वे सामान्य कंप्यूटर कहलाते हैं। इन कंप्यूटर को अनेक कार्य करने की क्षमता होती हैं। इनके सीपीयू की क्षमता और कीमत दोनों कम होती हैं। जैसे लेटर टाइप करने की एलेक्ट्रोनिक मशीन आदि

> Special Purpose Computer  ( विशिष्ट उद्देश्य कम्प्यूटर ) :-
यह एक ऐसा Computer हैं, जिन्हें किसी विशेष कार्य के लिए बनाया और तैयार किया जाता हैं, इसकी CPU की Capacity उस कार्य के अनुरूप होती हैं , जिस भी Special Purpose के लिए ये Computer को तैयार किया जाता हैं , इसके अंतर्गत यदि एक से अधिक CPU की आवश्यकता होती हैं | तो CPU के Connection के लिए भी Computers को तैयार कर लिया जाता हैं | जैसे Music Compose करने के लिए तैयार किया गया | Computer जिसके अंतर्गत Music से Related अलग अलग Device को Computer से Conect कर कार्य किया जाता हैं| ठीक वैसे ही Special Purpose Computer  ( विशिष्ट उद्देश्य कम्प्यूटर ) का Use फिल्म बनाने में भी होता हैं | सरल शब्दों में  ये ऐसे कंप्यूटर होते हिन जिन्हें विशेष उद्देश्य को पूरा करने के लिए तैयार किया जाता हैं। इनके सीपीयू की क्षमता इनके कार्य के अनुरूप होती हैं। जिसके लिए इन्हें तैयार किया जाता हैं। जैसे अन्तरिक्ष विज्ञान कंप्यूटर, मौसम विज्ञान कंप्यूटर और यातायात नियंत्रक आदि।


Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का  वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi
 Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का  वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi

इसे भी पढ़े :-

  • Computer क्या हैं ?
  • HTMLक्या हैं ?
  • C Language क्या हैं ? |
  • HTML File कैसें बनाएं ?
  • C++ क्या हैं  ?

  • Massage (संदेश): Friend यदि आप को हमारे द्वारा बताई गई जानकारी आपको अच्छा लगा हो, और हमारा "  Computers के प्रकार || कम्प्यूटर का  वर्गीकरण || Types Of Computer in Hindi " वाला Post पसंद आया हो, तो आप इस Post को अपने दोस्तों के साथ जरुर Share करुर करे !.. और इसी तरह के नये नए Technology से Updated रहने के लिये आप हमारे इस Blog को अपने Email से Subscribe भी कर सकते हैं | और यह बिलकुल Free हैं | और हमारे इस Online Blog WebSite पर Programming Blogging Internet Fact Science Technology Computer से Related सभी जानकारी Hindi Language में बिलकुल नि:शुल्क में प्रदान किया जाता हैं |  

    3 Comments

    Thanks! For Reading Our Blog...

    1. Whenever I read your articles, I like it very much, you keep writing articles like this.what is bitcoin mining and how is it done

      ReplyDelete
    2. If you want the New Teen Patti App, then it is necessary for you to go to the LootEarning.Com website. and you also visit on AllEarningApp.Com.

      ReplyDelete
    3. Thanks For Giving Butyfull Information bro. Chack my site: newrummyapps.xyz

      ReplyDelete

    Post a Comment

    Thanks! For Reading Our Blog...

    Previous Post Next Post
    © 2019-2021 All Rights Reserved By www.seeon-tech.com